सामान्य भौतिक विज्ञान प्रश्नोत्तरी part 6

सामान्य भौतिक विज्ञान प्रश्नोत्तरी part 6 | IIT  मैं पूछे जाने वाले भौतिक विज्ञान के प्रश्न उत्तर | NIIT मैं पूछे जाने वाले भौतिक विज्ञान के प्रश्न उत्तर | इंजीनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम में पूछे जाने वाले  भौतिकविज्ञान भौतिक विज्ञान के प्रश्न उत्तर | सामान्य भौतिक विज्ञान प्रश्नोत्तरी

सामान्य भौतिक विज्ञान प्रश्नोत्तरी part 6

Q. 151. लाल ग्रह किस ग्रह को कहते हैं?

Ans. लाल ग्रह मंगल ग्रह को कहते हैं।

Q. 152. सूर्य क्या है?

Ans. सूर्य एक तारा है।

Q. 153. चंद्रमा पृथ्वी के व्यास का कितना है?

Ans.चंद्रमा पृथ्वी के व्यास का लगभग एक चौथाई है।

Q. 154.चंद्रमा की पृथ्वी से औसत दूरी कितनी है?

Ans. चंद्रमा की पृथ्वी से औसत दूरी 382 हजार कि मी है।

Q. 155.चंद्रमा की पृथ्वी से निकटतम दूरी कितनी है?

Ans. चंद्रमा की पृथ्वी से निकटतम दूरी 364 हजार कि मी है।

Q. 156.चंद्रमा की पृथ्वी से अधिकतम दूरी कितनी है?

Ans.चंद्रमा की पृथ्वी से अधिकतम दूरी406 हजार किमी है।

Q. 157.चंद्रमा को पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाने में कितना समय लगता है?

Ans.चंद्रमा को पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाने में 27.3 दिन लगता है।

Q. 158. तूफान का महासागर किसे कहा जाता है?

Ans.चंद्रमा पर जल रहित क्षेत्र को तूफान का महासागर कहा जाता है।

Q. 159. चंद्रमा पर सबसे ऊंचा स्थान कौन सा है?

Ans. चंद्रमा पर सबसे ऊंचा स्थान लिबनिट्ज पर्वत है।

Q. 160. सौरमंडल का सबसे बड़ा उपग्रह कौन सा है?

Ans.सौरमंडल का सबसे बड़ा उपग्रह गानीमीड है।

Q. 161. सौरमंडल का सबसे छोटा उपग्रह कौन सा है?

Ans.सौरमंडल का सबसे छोटा उपग्रह डीमोस से है।

Q. 162. क्षुद्र ग्रह किसे कहते हैं?

Ans.सूर्य की परिक्रमा करने वाले विभिन्न आकारों के शैतानी मलवे जो मुख्यत: बृहस्पति और मंगल की कक्षाओं के मध्य की 547मिलियन किमी की पट्टी में विचरण करते हैं, उसे क्षुद्र ग्रह कहते हैं।

Q. 163.अंतरिक्ष में लगभग कितने क्षुद्र ग्रह हैं?
यह भी पढ़ें  कृषि विज्ञान प्रश्न उत्तर भाग - 1

Ans.अंतरिक्ष में लगभग 40,000 क्षुद्र ग्रह हैं।

Q. 164.कौन सा क्षुद्र ग्रह शनि तथा अरूण के बीच चक्कर लगाता है?

Ans.चिरान क्षुद्र ग्रह शनि तथा उनके बीच चक्कर लगाता है।

Q. 165.कौन सा ऐसा क्षुद्र ग्रह है जिसे हम नंगी आंखों से देख सकते हैं?

Ans.फोर वेस्टा क्षुद्र ग्रह जिसे हम नंगी आंखों से देख सकते हैं।

Q. 166. सबसे चमकीला तारा कौन सा है?

Ans. सबसे चमकीला तारा साइरस है।

Q. 167. सबसे चमकीला ग्रह कौन सा है?

Ans. सबसे चमकीला ग्रह शुक्र है।

Q. 168.क्रोड  किसे कहते हैं?

Ans. सूर्य का सबसे आंतरिक स्तर कहलाता है।

Q. 169. संवाहक घेरा किसे कहते हैं?

Ans. क्रोड के ठीक ऊपर का स्तर संवाहक घेरा कहलाता है।

Q. 170. प्रकाश मंडल किसे कहते हैं?

Ans. सूर्य का ऊपरी सतह जो दिखाई देता है उसे प्रकाश मंडल कहते हैं।

Q. 171. किरिट या कोरोना क्या होता है?

Ans.वर्णमंडल स्तर के पीछे सूर्य का प्रभामंडल युक्त किरीट या कोरोना है।

Q. 172. ध्रुव तारा किसे कहते हैं?

Ans. जो तारा हमेशा उत्तर दिशा में चमकता है तथा उत्तरी ध्रुव के ठीक ऊपर स्थित होने के कारणएक ही दिशा में हमेशा दिखाई देता है इसे ध्रुव तारा कहते हैं।

Q. 173. सौरमंडल किसे कहते हैं?

Ans. सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाले विभिन्न ग्रहों, क्षुद्र ग्रहों, धूमकेतुओं, उल्काओं तथाअन्य आकाशीय पिंडों के समूह को सौरमंडल कहते हैं।

Q. 174. खगोल विज्ञान किसे कहते हैं?

Ans. आकाशीय पिंडों, उसकी बनावट, परिमाण और गति का अध्ययन करने वाला विज्ञान खगोल विज्ञान कहलाता है।

Q. 175. ब्रह्मांड किसे कहते हैं?

Ans. पृथ्वी अंतरिक्ष तथा उसमें उपस्थित सभी खगोलीय पिंडों को समग्र रूप से ब्रह्मांड करते हैं।

Q. 176. ब्रह्मांड विज्ञान किसे कहते हैं?

Ans. ब्रह्मांड से संबंधित विज्ञान को बलवान विज्ञान कहते हैं।

Q. 177.भूकेंद्री सिद्धांत का प्रतिपादन किसने किया?
यह भी पढ़ें  सामान्य भूगोल प्रश्न उत्तर part 5

Ans.भूकेंद्री सिद्धांत का आविष्कार टोलेमी ने किया।

Q. 178. भूकेंद्री सिद्धांत क्या है?

Ans.इस सिद्धांत के अनुसार पृथ्वी विश्व के केंद्र में स्थित है,तथा सूर्य और अन्य ग्रह इस की परिक्रमा करते हैं।

Q. 179.सूर्यकेंद्री सिद्धांत का प्रतिपादन किसने किया?

Ans. सूर्यकेंद्री सिद्धांत का प्रतिपादन कॉपरनिकस ने किया।

Q. 180. सूर्यकेंद्री सिद्धांत क्या है?

Ans.इस सिद्धांत के अनुसार विश्व के केंद्र में सूर्य है ना कि पृथ्वी तथा पृथ्वी सहित सभी अन्य ग्रह सूर्य की परिक्रमा करते है।

Q. 181.आधुनिक खगोलिकी का जनक किसे कहा जाता है?

Ans.आधुनिक खगोलिकी का जनक कॉपरनिकस को कहा जाता है।

Q. 182. केप्लर का ग्रह के गति का नियम क्या है?

Ans.इस नियम के अनुसार सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाले ग्रहों का पथ दिर्घवृतीय  या अंडाकार है।

Q. 183. परावर्तक दूरबीन का आविष्कार किसने किया?

Ans.परावर्तक दूरबीन का आविष्कार न्यूटन ने किया।

Q. 184. परमाणु दाता किसे कहते हैं?

Ans.पंच संयोजी अपद्रव्य को परमाणु दाता कहते हैं।

Q. 185. परमाणु ग्राही किसे कहते हैं?

Ans.त्रिसंयोजी अपद्रव्य को परमाणु ग्राही कहते हैं।

Q. 186. डोपिंग किसे कहते हैं?

Ans.अपद्रव्य मिलाए जाने की प्रक्रिया को डोपिंग कहते हैं।

Q. 187. अतिचालकता किसे कहते हैं?

Ans.अत्यंत निम्न ताप पर कुछ पदार्थों का विद्युत प्रतिरोध शून्य हो जाता है,इसे अतिचालक करते हैं तथा इस गुण को अतिचालकता कहते हैं।

Q. 188. क्रांतिक ताप किसे कहते हैं?

Ans.कोई पदार्थ जिस ताप पर अतिचालक बनता है उसे उस पदार्थ का क्रांतिक ताप कहते हैं।

Q. 189. संधि डायोड किसे कहते हैं?

Ans.जब pप्रकार के अर्धचालक को किसी विशेष विधि द्वारा n प्रकार के चालक से जोड़ दिया जाता है तो यह निकाय संधि डायोड कहलाता है।

Q. 190. ट्रांजिस्टर किसे कहते हैं?

Ans. n-p-n तथा p -n-p अर्धचालकों के श्रेणी क्रम संधि सेअर्धचालकों की दूसरी युक्ति प्राप्त होती है जिसमें उस्मायनिक ट्रायोड के गुण होते हैं, यह युक्ति ट्रांजिस्टर कहलाती है।

यह भी पढ़ें  सामान्य रसायन विज्ञान प्रश्न उत्तर part 71
Q. 191.कैडियम बोरेट से उत्पन्न प्रकाश का रंग कैसा होता है ?

Ans. कैडियम बोरेट से उत्पन्न प्रकाश का रंग गुलाबी होता है।

Q. 192.जिंक सिलीकेट से उत्पन्न प्रकाश का रंग कैसा होता है?

Ans. जिंक सिलीकेट से उत्पन्न प्रकाश का रंग हरा होता है।

Q. 193. मैग्नीशियम टंगस्टेट से उत्पन्न प्रकाश का रंग कैसा होता है?

Ans. मैग्नीशियम टंगस्टेट से उत्पन्न प्रकाश का रंग हल्का नीला होता है।

Q. 194. प्रत्यावर्ती धारा किसे कहते हैं?

Ans.ऐसी धारा जिसका परिमाण एवं दिशा समय के साथ बदलते हैं।

Q. 195.फैराडे के विद्युत चुंबकीय प्रेरण का प्रथम नियम क्या है?

Ans. जब किसी कुंडली से संबद्ध विद्युतीय प्लसक‌ मे परिवर्तन होता हैतो उस कुंडली में एक प्रेरित विद्युत वाहक बल उत्पन्न हो जाता है।

Q. 196.फैराडे के विद्युत चुंबकीय प्रेरण का द्वितीय नियम क्या है?

Ans. प्रेरित विद्युत वाहक बल चुंबकीय फ्लक्स में परिवर्तन की दर के अनुक्रमानुपाती होता है।

Q. 197. अन्योन्य प्रेरण किसे कहते हैं?

Ans. एक कुंडली में धारा परिवर्तन करकेदूसरी कुंडली में प्रेरित विद्युत वाहक बल उत्पन्न करने की घटना को अन्योन्य प्रेरण कहते हैं।

Q. 198. स्वप्रेरण किसे कहते हैं?

Ans. ऐसी घटना जिसमें स्वयं की धारा से उत्पन्न फलस्क में परिवर्तन होने से किसी परिपथ में प्रेरित विद्युत वाहक बल उत्पन्न हो जाता है, इस घटना को स्वप्रेरण कहते हैं।

Q. 199. स्वप्रेरण गुणांक किसे कहते हैं?

Ans. स्वप्रेरण को स्वप्रेरण गुणांक द्वारा मापा जाता है।

Q. 200. अन्योन्य प्रेरकत्व का मात्रक क्या होता है?

Ans. अन्योन्य प्रेरकत्व का मात्रक हेनरी होता है।

Over more GK Questions-

सामान्य भौतिक विज्ञान प्रश्नोत्तरी part 6

Leave a Comment