संगम युग के महत्वपूर्ण gk part 3

संगम युग के महत्वपूर्ण gk part 3 . संगम काल का सर्वाधिक महत्वपूर्ण नगर कौन सा था? संगम साहित्य का मुख्य विषय क्या था? संगम का दूसरा नाम क्या है? चोल राज्य किस दिशा में स्थित था?

संगम युग के महत्वपूर्ण gk part 3

Q 1. चोल राज्य किस दिशा में स्थित था?

Ans चोल राज्य उत्तर-पूर्व में स्थित था.

Q 2. चेर राज्य किस दिशा में स्थित था?

Ans चेर राज्य दक्षिण-पश्चिम में स्थित है.

Q 3. पाण्ड्य राज्य किस दिशा में स्थित था?

Ans पानी राज्य दक्षिण-पूर्व में स्थित था.

Q 4. संगम युग का सबसे शक्तिशाली राज्य कौनसा था?

Ans संगम युग का सबसे शक्तिशाली राज्य चोल राज्य था.

Q 5. चोल राज्य कहाँ स्थित था?

Ans चोल राज्य पेन्नार तथा वेल्लारू में स्थित था.

Q 6. चोल राज्य का सबसे प्रतापी राजा कौन था?

Ans चोल राज्य का प्रतापी राजा करिकाल था.

Q 7. करिकाल की मत का अनुनायी था?

Ans करिकाल ब्राह्मण मत का अनुनायी था.

यह भी पढ़ें  सिंकंदर के शासनकाल के महत्वपूर्ण gk
Q 8. करिकाल ने किस धर्म को राष्ट्रिय संरक्षण प्रदान किया था?

Ans करिकाल ने ब्राह्मण धर्म को राष्ट्रिय संरक्षण प्रदान किया था.

Q 9. पुहार पतन का निर्माण किसके शासनकाल में हुआ था?

Ans पुहार पतन का निर्माण करिकाल शासनकाल में हुआ था.

Q 10. पुहार पतन बाँध का निर्माण किसने करवाया था?

Ans पुहार पतन बाँध का निर्माण का निर्माण करिकाल ने करवाया था.

Q 11. पुहार पतन बाँध का निर्माण किस नदी पर किया गया था?

Ans पुहार पतन बाँध का निर्माण कावेरी नदी पर किया गया था.

Q 12. करिकाल को संगीत के कितने स्वरों का विशेषज्ञ बताया गया है?

Ans करिकाल को संगीत के सप्त स्वरों का विशेषज्ञ बताया गया है.

Q 13. करिकाल को संगीत के सप्त स्वरों का विशेषज्ञ कहाँ बताया गया है?

Ans करिकाल को संगीत के सप्त स्वरों का विशेषज्ञ पेरुनानुन्नुपादे में बताया गया है.

Q 15. चेर राज्य कहाँ स्थित था?

Ans चेर राज्य आधुनिक केरल प्रान्त में स्थित था.

Q 16. चेर राज्य के प्रमुख राजाओं का नाम लिखिए.

Ans चेर राज्य के प्रमुख राजा उदियाजीरल, नेंदुजीरल, सेंगुततुवन थे.

Q 17. उदियाजीरल राजगद्दी पर कब बैठा था?

Ans उदियाजीरल राजगद्दी पर लगभग 130 ई में बैठा था.

Q 18. नेंदुजीरल राजगद्दी पर कब बैठा था?

Ans नेंदुजीरल राजगद्दी पर 155 ई. में बैठा था.

Q 19. सेंगुततुवन राजगद्दी पर कब बैठा था?

Ans सेंगुततुवन राजगद्दी पर 180 ई. में बैठा था.

Q 20. सेंगुततुवन ने कौनसी उपाधि धारण की थी?

Ans सेंगुततुवन ने अधिराज की उपाधि धारण की थी.

OUR LETEST POST

Leave a Comment